Observance of Swachhta Hi Sewa(SHS) -2019 by NRPC

 Exchange Prices

MCP LAST THREE YEARS
Date MIN MAX AVG
{{mcp.date}} {{mcp.min}} {{mcp.max}} {{mcp.avg}}

Today State wise Avg Exchange Rates and Losses

Drag mouse on state to view data
{{stateWiseData.state_name}}
Inject Poc Losses(%): {{stateWiseData.inject_poc_losses}}
Drawee Poc Losses(%): {{stateWiseData.drawe_poc_losses}}
Inject Poc Charges(Rs./Mwh): {{stateWiseData.inject_poc_charges}}
Drawee Poc Charges(Rs./Mwh): {{stateWiseData.drawe_poc_charges}}
Avg. IEX Rate  ()  : {{stateWiseData.iexrate}}
Avg. PXIL Rate  ()  : {{stateWiseData.pxilrate}}
{{stateWiseData.state_name}}

Frequency Profile In Northern Region For: 15-12-2019(Source:https://nrldc.in/reports/frequency-profile)

Hz
Time (Hours)
Metting Section
  • img01

    एनआरपीसी/टीसीसी

  • img01

    ओसीसी
  • img01

    वाणिज्यिक उप समिति
  • img01

    संरक्षण उप समिति
  • img01

    परीक्षण उप समिति
  • img01

    एलजीबीआर
  • img01

    विशेष बैठकें
  • img01

    अन्य लोग
Home Accordion Section

राजभाषा नीति

राजभाषा नीति तथा उपलब्धियाँ

  • 1. राजभाषा नियम के अनुसरण में उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति कार्यालय को हिन्दी में कार्यसाधक ज्ञान प्राप्त कार्मिकों की संख्या के आधार पर विद्युत मंत्रालय के पत्र सं० -11317/2/94 – हिन्दी दिनांक 24.1.1995 के द्वारा राजपत्र में प्रकाशन हेतु अधिसूचित किया गया । राजभाषा विभाग, गृह मंत्रालय द्वारा प्रत्येक वर्ष के लिये राजभाषा नीति लागू करने के लिये निर्धारित लक्ष्यों को उ.क्षे.वि.स. कार्यालय द्वारा प्राप्त किए जाने के पूर्ण प्रयास किए जाते हैं ।
  • 2. कार्यालय के प्रशासन तथा लेखानुभाग द्वारा सभी फाइलों पर हिन्दी में ही नोटिस, पत्रों के प्रारुप, कार्यालय आदेश, पत्राचार इत्यादि कार्य राजभाषा की धारा 3(3) के अनुरुप किए जाते हैं । इसके साथ ही सेवाएँ / प्रचालन / वाणिज्य – परिमंडल के अधिकांश कार्य भी हिन्दी में किए जाने के प्रयास किए जाते हैं ।
  • 3. हिन्दी में प्राप्त सभी पत्रों का उत्तर अनिवार्य रुप से हिन्दी में ही दिया जाता है । इस प्रकार राजभाषा नियम 5 का नियमित रुप से पालन किए जाने के पूर्ण प्रयास किए जाते हैं ।

राजभाषा कार्यान्वयन समिति की तिमाही बैठकें –

वर्ष के दौरान राजभाषा कार्यान्वयन समिति की चार तिमाही बैठकें आयोजित की जातीं हैं तथा इन बैठकों में राजभाषा नीति लागू करने के बारे में समीक्षा करके इन्हें कड़ाई से लागू करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाते हैं । द्विभाषी रिपोर्टों को जारी करना

वर्ष के दौरान इस कार्यालय द्वारा निम्नलिखित रिपोर्टे द्विभाषी (डिग्लॉट) रुप में तैयार करके जारी की जातीं हैं तथा इन्हें कार्यालय की द्विभाषी वैब – साइट पर भी उपलब्ध कराया जाता है । 1. मासिक प्रगति रिपोर्ट- अप्रैल से मार्च तकउ.क्षे.वि.स. सभी क्षेत्रीय विद्युत समितियों में मासिक प्रगति रिपोर्ट डिग्लाइट रुप में जारी करने में सर्वप्रथम रहा है ।
2. वार्षिक रिपोर्ट (डिग्लॉट रुप में)

हिन्दी प्रोत्साहन योजनाओं का कार्यान्वयन

वर्ष के दौरान, गृह मंत्रालय (राजभाषा विभाग) द्वारा जारी कार्यालय ज्ञापन सं०- 11/12013/3/87-o.l. (K-2) दिनांक- 16.12.1988 तथा 6.3.1998 के अनुसार हिन्दी में मूल टिप्पण,आलेखन व डिक्टेशन की वार्षिक प्रोत्साहन योजना को कार्यालय में नियमित रुप से लागू किया जाता है और चयन समिति की सिफारिशों के अनुरुप अधिकारियों व कर्मचारियों को हिन्दी सप्ताह के दौरान नगद पुरस्कार प्रोत्साहन से पुरस्कृत किया जाता है ।

हिन्दी सप्ताह का आयोजन

उ.क्षे.वि.स. में प्रति वर्ष 14 सितम्बर से हिन्दी सप्ताह का आयोजन किया जाता है । इस दौरान वाद-विवाद, निबंधन लेखन, तकनीकी लेख, हिन्दी कार्यशाला, टिप्पण- आलेखन व अनुवाद, प्रश्न मंच तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों (गीत-संगीत) कविता-पाठ आदि का भी आयोजन किया जाता है ।

कार्यशालाओं का आयोजन

उत्तर क्षेत्रीय विद्युत कार्यालय में राजभाषा विभाग द्वारा जारी मार्गनिर्देशों के अनुरूप कार्यालय के कामकाज में हिन्दी प्रयोग को बढ़ाने के उद्देश्य से अप्रैल, 2003 से मासिक/द्वैमासिक आधार पर हिन्दी कार्यशालाओं की श्रंखला प्रारम्भ की गई है । उ.क्षे.वि.स. ऐसा प्रथम अधीनस्थ कार्यालय रहा है जिसमें पिछले छः वर्षों से निरंतर कार्यशालाएं आयोजित की गई हैं और इस दौरान 51 हिन्दी कार्यशालाएँ आयोजित की जा चुकी हैं तथा चालू वर्ष में भी यह क्रम जारी है । इन सभी कार्यशालाओं में सभी अधिकारियों एवं कार्मिकों द्वारा सक्रिय रुप से भाग लिया गया तथा उ.क्षे.वि.स. कार्यालय परिसर में स्थित के.वि.प्रा. के प्रभाग, आर.आई.ओ., आर.पी.एस. ओ. सहित सभी अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा भी भाग लिया गया ।

पुस्तकालय में हिन्दी की पुस्तकें

इस कार्यालय में एक तकनीकी पुस्तकालय है । प्रत्येक वित्तीय वर्ष में पुस्तकालय में हिन्दी की पुस्तकें नियमित रुप से खरीदी जाती हैं । इस पुस्तकालय के लिये आठ हिन्दी के समाचार पत्र तथा 15 हिन्दी की पत्रिकायें नियमित रुप से खरीदी जाती है । पुस्तकालय की पुस्तकों आदि का पूर्ण लेखा – जोखा वहॉ संस्थापित कम्प्यूटर में दर्ज किया जाता है ।

द्विभाषी रुप में कार्य करने के लिये पी.सी. पर सुविधा

इस कार्यालय द्वारा नियमित रुप से हिन्दी द्विभाषी रुप में कार्य करने की सुविधा के लिये पीयसी. साफ्टवेयर नियमित रुप से खरीदें जाते हैं व अपडेट किये जाते हैं । वर्तमान में सभी कम्प्यूटरों पर द्विभाषी रुप में कार्य करने की सुविधा उपलब्ध है ।

केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण (मुख्यालय) द्वारा कार्यालय का निरीक्षण ।

केन्द्रीय विद्युत प्राधिकरण (मुख्यालय) द्वारा समय-समय पर उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति कार्यालय का निरीक्षण किया जाता है जिसमें राजभाषा की उत्तरोत्तर प्रगति हेतु जॉच की जाती है ।

संसदीय राजभाषा समिति द्वारा निरीक्षण

राजभाषा नियमों के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन हेतु संसदीय राजभाषा समिति की दूसरी उप समिति द्वारा दिनांक 9.2.2009 को उत्तर क्षेत्रीय विद्युत समिति कार्यालय का विद्युत मंत्रालय तथा के.वि.प्रा.(मुख्यालय) के उच्चस्थ अधिकारियों की उपस्थिति में निरीक्षण किया गया । जिसमें राजभाषा की उत्तरोत्तर प्रगति हेतु जॉच की गई । समिति के माननीय उपाध्यक्ष डा. लक्ष्मी नारायण पाण्डेय, संसद सदस्य ने कार्यालय द्वारा राजभाषा संबंधी प्रयासों के लिये हार्दिक शुभकामनाएँ व्यक्त की । संसदीय समिति द्वारा कार्यालय की घरेलू पत्रिका विद्युत प्रवाह को जारी करने के लिये किए जा रहे इस कार्यालय के प्रयासों की भूरि-भूरि प्रशंसा की गई ।

घरेलू पत्रिका का प्रकाशन

राजभाषा कार्यान्वयन समिति की 61वीं बैठक में कार्यालय द्वारा विद्युत प्रवाह नाम से एक त्रैमासिक घरेलू पत्रिका निकालने का निर्णय लिया गया । इस पत्रिका द्वारा तीन वर्ष पूर्ण कर लिये गये है । इसके 11 अंक प्रकाशित किए जा चुके हैं ।

Clients Section